saijagat-shradha

अनंत कोटी ब्रम्हांडनायक राजाधिराज योगीराज परं ब्रम्हं श्री सच्चिदानंद सदगुरु श्री साईनाथ महाराज की जय


Sai Baba – श्री साईं बाबा का जन्म 28 सितंबर 1835 को महाराष्ट्र के पाथरी गांव में हुआ था। इनके जन्म स्थान, जन्म दिवस और असली नाम के बारे में कोई भी प्रमाणित जानकारी नहीं है। लेकिन एक अनुमान के अनुसार साईं बाबा का जीवन काल 1838 से 1918 के बीच माना जाता है। अधिकांश विवरणों के अनुसार बाबा एक ब्राह्मण परिवार में जन्मे और बाद में एक सूफ़ी फ़क़ीर द्वारा गोद ले लिये गये थे। आगे चलकर उन्होंने स्वयं को एक हिन्दू गुरु का शिष्य बताया था। ऐसा माना जाता है कि सोलह वर्ष की अवस्था में साईं बाबा पश्चिम भारतीय राज्य महाराष्ट्र के अहमदनगर के शिरडी गाँव पहुँचे थे और जीवन पर्यन्त उसी स्थान पर निवास किया। शुरुआत में शिरडी के ग्रामीणों ने पागल बताकर उनकी अवमानना की। लेकिन कुछ समय बाद उनके सम्मोहक उपदेशों और चमत्कारों से आकर्षित होकर हिन्दुओं और मुस्लिमों की एक बड़ी संख्या उनकी अनुयायी बन गयी है।

सबका मालिक एक
ॐ साईं राम



बेवजह किसी को बुरे शब्द मत बोलो, किसी का दिल मत दुखाओ ।
वो कुदरत और परवरदिगार सर्वशक्तिमान है ।
किसी मासूम और निर्दोष का दिल दुखाओगे तो वो कुदरत अपने आप तुमसे हिसाब मांगेगी ।

 

सबका मालिक एक
ॐ साईं राम





Sai Baba – ★ एक बार एक गांव में एक व्यक्ति की एक बेटी अचानक खेलते हुये। वहां के कुएं में गिर गई। लोगों को लगा कि वह डूब रही है। सब वहां दौड़कर गये और देखा कि वह हवा में लटकी हुई है और कोई अदृश्य शक्ति उसे पकड़े हुये है। वे और कोई नहीं बल्कि साईं बाबा ही थे, क्योंकि वह बच्ची कहती थी कि मैं साई बाबा की बहन हूँ। अब लोगों को कोई और स्पष्टीकरण की जरूरत नहीं थी। ★सांईं बाबा प्रतिदिन मस्जिद में दिया जलाया करते थे। एक बार शिर्डी गावं के दुकानदार ने साईं बाबा को दीपक जलाने के के लिये तेल नही देता है और उनसे बहाने बनाता है। साईं बाबा उनके इस बर्ताव से बहुत दुःखी होते है। साईं बाबा अपने तेल वाले बर्तन जिसमे नगण्य तेल होता है, उसमे पानी भर के पी जाते।

सबका मालिक एक
ॐ साईं राम


#ringtunePLAYDOWNLOAD
1 Sai baba ringtone DOWNLOAD
2 sainath tere hajaro hath DOWNLOAD
3 deewana tera aaya DOWNLOAD




#Audio PlayDOWNLOAD
1 jo laga gyan DOWNLOAD
2 bigdi meri bana do DOWNLOAD
3 rekh laaj gariba di DOWNLOAD